26 January: Happy Republic day Hindi wish | गांधीजी विचार: २६ जनवरी गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं

Nonviolence is a universal law acting under all circumstances.

Mahatma Gandhi


अहिंसा एक सार्वभौमिक कानून है जो सभी परिस्थितियों में कार्य करता है।

महात्मा गांधी 

तिरंगा झंडा, Gandhi on republic day, २६ जनवरी सुविचार, 26 January wish, Happy Republic day art wallpaper, Republic day 2022, भारतीय संविधान पर विचार, गणतंत्र दिवस पर गांधी जी का विचार

 

भारतीय संविधान पर गांधी जी का विचार | Gandhi on Bhartiya constitution

दोस्तों यदि हम राजीव जी की बात पर ध्यान दें तो उनका कहना है कि भारतीय संविधान से किसी का भी भला नहीं होने वाला है। राजीव दीक्षित भाई ने स्पष्ट रूप से इस बात को बताया है कि भारतीय कॉन्स्टिट्यूशन संसार के अनेकों कॉन्स्टिट्यूशन को मिला करके बनाया है। यह बात तो हम और आप दोनों ही मानेंगे की भारत और संसार के वातावरण में बहुत अंतर है। तो इसके नियम भी अलग अलग ही होने चाहिए।

भारतीय संविधान में इतनी गलतियां हैं कि उसको हर एक कानून पर अमेंडमेंट करने रहते हैं। अमेंडमेंट यानी कि सुधार। एक विद्वान एवं इतिहासकार श्री धर्मपाल के अनुसार भारतीय कानून में जो २५०० - ३००० कानून है, उनको हटाकर सिर्फ २५-५० कानूनों से ही देश चलाया जा सकता है। मजे की बात यह है कि महात्मा गांधी के अनुसार यह २५-५० कानूनों की भी जरूरत नहीं थी। महात्मा गांधी के अनुसार संविधान में सिर्फ एक कानून होना चाहिए वह होना चाहिए अहिंसा। और यदि दूसरा कुछ उस में जोड़ना है तो वह जोड़ दीजिए सत्य। 

राजीव दीक्षित का यह कहने का भी अर्थ निकलता है कि सब देशों के संविधान का कचरा हमारे देश के संविधान में भर दिया है। स्वयं भीमराव बाबासाहेब आंबेडकर इस बात की पुष्टि करते हैं कि इस संविधान से किसी का भी भला नहीं होने वाला है।

टिप्पणियाँ

लोकप्रिय पोस्ट